देसी सेक्स कहानियाँ

कौमार्य भेदन की साली की

मेरी शादी को सवा साल हो चुका था जब मेरी बीवी गुंजन ने मुझे बताया कि उसकी माहवारी नहीं हुई है, तो मैं उस दिन बहुत ही खुश हो गया, आठ दस दिन बाद उसे लेकर लेडी डॉक्टर के पास गया, टैस्ट करवाया तो पूरा यकीन हो गया कि वो पेट से है। अब बीवी का ख़याल रखना था और उसे कम से कम कष्ट पड़े इस लिए मैंने थोड़े दिन के बाद अपने ससुराल फोन करके अपनी साली रचना को यहाँ बुलवा लिया। रचना की पढ़ाई पूरी हो चुकी थी और वह घर पर ही रहती थी। रचना मेरे साथ खूब हंसी मजाक कर लिया करती थी और वह दिखने में भी बहुत सेक्सी थी, बड़े वि... >>>

मेरी प्यासी चुदक्कड चूत

नेहा मेरे कमरे में फ़ोल्डिंग बेड पर पैर लटकाकर बैठी हुई थी और “कामायनी” का सस्वर पाठ कर रही थी। मेरी उससे कुछ कहने की हिम्मत नहीं पड़ी। जो कुछ उसने देखा था उसके बाद मेरी उससे निगाह मिलाने की भी हिम्मत नहीं हो रही थी। मैंने उससे पुस्तक ले ली और मनु और श्रद्धा की कहानी उसे सुनाने लगा। कहानी खत्म होने के बाद मैंने उसे कविता का अर्थ समझाना शुरू किया। बीच में एक पंक्ति आई- “और एक फिर व्याकुल चुम्बन रक्त खौलता जिससे, शीतल प्राण धधक उठते हैं तृषा तृप्ति के मिष से।” पढ़ने के बाद मैंने उसकी तरफ देखा। पंक्ति... >>>

लंड की प्यासी मेरी बीवी

दोस्तो, मैं मनुज जैन 27 साल का नवयुवक हूँ. अभी चार महीने पहले मेरा प्रेम विवाह एक सिख लड़की जसप्रीत कौर से हुई.. जसप्रीत की उम्र सिर्फ 19 साल है. वो पंजाब के एक अमीर किसान परिवार से है, वो गजब की सेक्सी लड़की है. मैं खुद देखने में ज्यादा खूबसूरत नहीं हूँ लेकिन खूब पैसे वाला हूँ, मेरा अपना बिजनेस है. हमारा घर बहुत बड़ा है, मेनगेट पर हमेशा चौकीदार होता है क्योंकि घर में सिर्फ हम दोनों ही रहते हैं। जसप्रीत भी मेरे साथ मेरे बिजनेस में मदद करती है। एक दिन जब जसप्रीत घर पर थी तो मैं अचानक घर आया तो मैंने... >>>

बस भी करो….

उस दिन मुझसे यह यह सब कैसे हुआ, किन हालातों में हुआ, मैं इससे बिलकुल अनजान था। बात कुछ ही दिन पुरानी है, भव्या से मेरी पहली मुलाकात तब हुई थी जब मैं बी ए प्रथम में था। मैं उसे शुरू से ही पसंद करता था। शायद वो भी मुझे पसंद करती थी। उसके पापा भी मेरे पापा के अच्छे मित्र हैं इसलिए अंकल भी मुझे अच्छे से जानते थे। पिछले महीने ही हमारी अर्धवार्षिक परीक्षा समाप्त हुई हैं २७ नवम्बर को हम (मैं, भव्या, रोहित, आशीष, अनुज, नीतिश, के के) लोगों ने पार्टी रखी थी। हम सब लोग सही समय पर पहुच गए थे। भव्या आज कुछ ज... >>>

बुर का पानी ने बुझाया सावन की आग

दोस्तों उन दिनों मैं अपने मामा के घर पर गया हुआ था . वही पर मेरी एक मोसी की लड़की भी अपनी सर्दियों की छुट्टियों में आई हुई थी। उस वक्त मेरी उमर २१ साल थी और मौसी की लड़की जिसका नाम इशिका था उसकी उमर कोई १८ साल के आस पास होगी . हम दोनों अपनी पूरी जवानी की मस्ती में थे . उसके बदन के उभरे हुए अंगों की गोलाई उसकी जवानी में चार चाँद लगा रही थी। उसकी तारीफ मै क्या करू खूबसूरती में कैटरीना कैफ जैसी थी। लेकिन चूचियां उससे भी ज्यादा लगती थी। उसे देख कर मेरी रातों की नींद गायब होने लगी . एक रात में ख़ुद क... >>>

मामू ने भांजी की चूत ली

मेरा नाम मेहराना है। अभी मेरी उम्र 24 साल की है। अभी तक कुवारीं हूँ। लेकिन इसका मतलब ये नहीं की मेरी चूत भी कुवारी हैं। ये तभी चुद गयी थी जब मेरी उम्र 13 साल भी नहीं हुई थी। तब मै आठवीं कक्षा में पढ़ती थी। उस दिन घर में मेरी अम्मा भी नहीं थी। मै और मेरा भाई जो कि मुझसे 5 साल छोटा था घर पर अकेले थे। उस दिन स्कूल की छुट्टी थी। इसलिए मै घर के काम कर रही थी। मेरा छोटा भाई पड़ोस में खेलने चला गया था। मै बाथरूम में नहाने चली गयी। अपने सारे कपडे मैंने हॉल में ही छोड़ दिए और नंगी ही बाथरूम में चली गयी। ... >>>

गावं मे सुहाग रात मनाया सीमा के साथ

हेलो दोस्तों.. मैं सेक्सी कहानियो की वेबसाइट का रेग्युलर पाठक हूँ और एक दिन इसे पढ़ने के बाद.. मुझे लगा कि मुझे भी अपना सेक्स अनुभव आपके साथ शेयर करना चाहिए. मेरा नाम ख़ान है और मेरी हाईट 5 फीट 9 इंच है.. मैं सुंदर स्लिम शरीर का मालिक हूँ. अब मैं आप लोगों का ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए अपनी कहानी की तरफ आता हूँ. दोस्तों यह बात आज से कोई दो महीने पहले की है. मैं अपने ऑफिस के किसी काम से एक गावं में गया हुआ था और वहाँ पर मुझे उस गावं के चौधरी से मिलना था. मैं जब उस चौधरी के घर गया और दरवाजे पर दस... >>>

मेरी चूत रानी धनिया की चूत

जब से खलनायक फिल्म का गाना आया था कि चोली के नीचे क्या है चुनरी के पीछे, तब से मुहल्ले का मटरू धनिया के पीछे पगला गया था. इस बार वो उसे चोदने के लिए पीछे ही पड़ गया था, जहां तहां खेत, खलियान बस उसके पीछे घूमते घूमते और यहां वहां उससे बुर मांगते हुए शरम नहीं आती उसने. आज उसने धनिया को आते देखा तो बोल उठा, आ मेरी रानी, सबको बांटती है तो हमें क्यों डांटती है और इसलिए, आज तो मुझे दे ही दो. धनिया ने कहा, साले पाकेट में एक रुपया नहीं, और चले हो धनिया को पटाने पिछले बार मेला में घुमाने तो ले नहीं गये औ... >>>

कामबसना से तड़पती रीना की मस्ती

मेरा नाम रीना शर्मा है। यह कहानी उस वक्त की है जब मेरी शादी हुए छ: महीने हो चुके थे। मैं तो शादी के पहले से ही चुदने को बेकरार रहती थी। मेरी कई सहेलियों की शादी हो चुकी थी और वे अपनी चुदाई के किस्से मुझे सुनाती रहती थीं। सभी का कहना था कि जब चूत मैं पहली बार लँड घुसता है तो जो मजा आता है, वह मज़ा कोई लड़की बिना लँड लिये नहीं समझ सकती है। उसके बाद फिर चुदाई का आनंद तो इतना आता है कि कहना ही क्या। उनका कहना था कि रोज रात को टाँगें फैला और उचक उचक कर लँड लेने में जो मजा आता है वो तो दुनिया की किसी ... >>>

मेरी मानसी की नर्म चूत और सख्त चूचियाँ

प्रिये मित्रो, आज मैं आपको एक सच्ची कहानी सुनाने जा रहा हूँ, आशा है आपको पसंद आएगी। राखी के अवसर पर मैं अपनी पत्नी और बेटे के साथ अपने ससुराल गया। ससुराल में मेरी साली भी अपने भाई को राखी बांधने आई थी और उसके साथ उसकी बेटी मानसी भी थी। यहाँ मैं आपको यह अवसर देता हूँ कि मैं मानसी की उम्र, रंग-रूप या फिगर के बारे में कुछ भी नहीं बताऊँगा क्योंकि आपके रिश्तेदारी में कोई न कोई आपकी भांजी होगी, जिसकी चढ़ती जवानी आपकी आँखों में मचलती होगी, उसके आते-जाते आप अपनी आँखों से उसके बदन को सहलाते होंगे, आप भी च... >>>

मज़बूरी में मज़ा

अक्सर जीवन की आपा धापी, घर गृहस्थी की दौड़ धूप में हम उसकी कीमत करना भूल जाते हैं जो हमारे लिए सबसे अधिक महत्वपूर्ण है और उसके जाने के बाद अफ़सोस के सिवा हमारे पास कुछ नहीं बच पता… !! खैर, इधर वो उठ गया और मैं बेड पर ही लेटी हुई थी… उसका लण्ड अब पूरा तरह टाइट था और चूत को फाड़ने के लिए बेचैन था… … अब उसने कंडोम लिया और अपने लण्ड पर चड़ा लिया… … … मस्त कहानियाँ हैं मेरी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर !!! !! उसको खुद कंडोम लगता देख मुझे बहुत सुकून मिला क्यूंकी मुझे शुभम (अंजान आदमी जिसने मुझे कॉल करके यह... >>>

चूत की सबारी कार मे

हाज़िर हूँ अपना एक और हंगामा और चुदाई का कारनामा – कार में चुदाई. जो तारीफ़ मुझे मिली है और जितने मेल मुझे रोज़ मिलते हैं, उस से मैं बहुत खुश हूँ के इतने लोगों ने मेरी चुदाई को, मेरे लिखने को सराहा है. मैंने ऐसा नहीं सोचा था की मैं इतनी फेमस हो जाऊंगी के कुछ लोग मुझ से जलने लग जायेंगे. जलने वाले जलते रहें, मैं परवाह नहीं करती. मेरा मानना है के प्यार और चुदाई सब सामाजिक बंधन से ऊपर है और जब दो प्यार करने वाले, चुदाई करने वाले राज़ी हो तो किसी को तकलीफ क्यों होती है, ये तो वो ही जाने जिन को तकलीफ ... >>>

स्टूडेंट और उसकी माँ की चूत लिया

हैल्लो मेरे प्रिय मित्रो, में राहुल आज आप सभी के सामने हाज़िर हूँ अपनी एक सच्ची कहानी लेकर और यह आप लोगों के लिए कहानी ही होगी, लेकिन यह मेरी लाईफ की एक सच्ची घटना है, जो अभी एक सप्ताह पहले मेरे साथ घटित हुई. में नौकरी करने के लिए दिल्ली गया और वहाँ पर एक रूम किराए पर ले लिया और नौकरी की तलाश करने लगा. कुछ दिन बाद वहाँ मुझे एक ट्यूशन पढ़ाने का मौका मिला. दोस्तों वो एक 8th क्लास का स्टूडेंट था और तीन चार दिन में ही उसे मेरी पढ़ाई समझ में भी आने लगी और वो वहाँ पड़ने लग गया. दोस्तों यह मेरी कहानी मेर... >>>

जहा मिला ओही चुदाई का खेल सुरु

दोस्तो, मेरा नाम प्रियंका सागर है| मैं देवरिया जिले के जोकहा- ख़ास की रहने वाली हूँ पर मैं गोरखपुर में रहकर पढ़ाई करती हूँ| मैं किसी से बहुत कम बोलती या मेलजोल रखती हूँ इसलिए मैं अपने दिल की बात किसी को बता नहीं पाती| एक दिन मेरी सहेली शशि ने देसी सेक्स स्टोरी साईट के बारे में बताया और कैफ़े में ले जाकर कहानी पढ़वाई| इस पर ढ़ेर सारी कहानियाँ पढ़कर बहुत मजा आया और सोचा कि मैं भी अपने दिल की बात इस साईट के माध्यम से आप लोगों को बताऊँ| मैं आपको अपनी एक सच्ची घटना के बारे में बताती हूँ। जो मेरे साथ अनजाने... >>>

मेरी सहेली थी रांड जाके मार आई गाण्ड

कामिनी जी को प्रणाम और इस बेहतरीन साइट के लिए और मेरे सभी साथी पाठकों की तरफ से धन्यवाद… तो दोस्तो, मेरा नाम बिंदु है और मेरी शादी आज से 3 साल पहले विमल से हुई थी। विमल मेरी माँ की सहेली का बेटा है और वो एक कंपनी में जॉब करता है और अक्सर टूर पर रहता है… उन दिनों हमारी “सेक्स लाइफ” ठीक नहीं चल रही थी। आप को विश्वास हो ना हो शादी से पहले मैं बिल्कुल “कुँवारी” थी, जी हाँ यानी किसी मर्द ने मेरी चूत नहीं चोदी थी!!! अब मैं अपने बारे में बता दूँ। मेरा रंग गोरा है, कद 5 फीट 5 इंच और जिस्म थोड़ा भरा हुआ ह... >>>

में तो मालिक की दासी बन गयी

हैल्लो दोस्तों, में एक घरेलू औरत हूँ और मेरी उम्र 26 साल है, मेरी शादी को दो साल हो गये है और मेरे पति एक फेक्ट्री में नौकरी करते है और उनकी नौकरी शिफ्ट में होती है, वो शराब के आदी भी है और शाम को कभी कभी तो पीकर भी नौकरी पर जाते है और वहां पर वो मशीन ऑपरेटर का काम करते है. उनकी पहचान के एक सेठ जी है जो कभी कभी हमारे घर पर आते है और वो दोनों एक साथ में बैठकर दारू पीते है. सेठ जी हमेशा मेरे जिस्म जो देखते है और जब भी में उनके सामने आती हूँ तो में हल्की सी स्माईल दे देती हूँ तो वो खुशी से फूले नही... >>>

दुल्हन की माँ को चोदा सादी में

हैल्लो मेरे प्यारे दोस्तों, आज में आप लोगो के लिए अपनी बहुत हॉट घटना लेकर आया हूँ, जिसमें मैंने अपनी पड़ोसन आंटी को चोदा और उनके साथ वो मेरा सेक्स अनुभव बहुत यादगार रहा. दोस्तों मेरे घर के दूसरी तरफ में एक 45 साल की बहुत मस्त आंटी रहती है जिनका नाम रेणुका और उसके बूब्स का साइज़ 40, गांड 50 या 55 होगा. में हर दिन जब भी जिम जाता हूँ तो उनसे मेरी नज़र मिलती है और हम दोनों एक दूसरे को एक हल्की सी स्माइल देते है, यह काम हमारा हर रोज़ का था और एक दिन रेणुका आंटी मेरे घर पर आई तो में उस समय बाथरूम में न... >>>

जवानी पे पेहला कदम

मेरा नाम वैशाली, ५ फुट ५ इंच कद, गुन्दाज़ बदन, गोरे-चिट्टे मखमल जैसे वक्ष ! मै बारहवीं जमात की छात्रा हूँ। पहले हम एक संयुक्त परिवार में रहते थे, चाचू-चाची, बुआजी, ताया-ताई, घर इतना बड़ा नहीं था, इसलिए मैं चुदाई के लाइव सीन देख देख बड़ी हुई। एक दिन चाचू-चाची अकेले थे। मैं तबीयत ठीक न होने की वजह से पहले घर आ गई। चाचू के कमरे से सिसकी की आवाज़ सुन मैं पिछली खिड़की की ओर बढ़ी। मैं जब मॉम-डैड के बीच सोती थी तो कई बार डैड को मॉम पर सवार होते देखा था, लेकिन अच्छी तरह से नहीं देख पाई। आज मौका था, अन्द... >>>

मेरी चुदकड़ चूत भाग-2

मेरे ऐसा करने पर वो अपनी गांड को और ज्यादा तेजी के साथ लहराने लगती थी। दीदी अब पुरी उत्तेजना में आ चुकी थी। मैने अपने पंजो के बिच में उसके दोनो छुतडों को दबाया हुआ था, ताकि मुझे उसकी प्यारी चूत को अपने जीभ से चोदने में परेशानी ना हो। मैं अपनी नुकिली जीभ को उसकी चूत के अंदर गहराई तक पेल कर, घुमा रहा था। “ओह भाआआईईईई,,,,,, ऐसे ही प्यारे, मेरे डार्लिंग ब्रधर,,,,, ऐसे ही। ओह,,,, खा जाओ मेरी चूत को, चुस लो इसका सारा रस,,,, प्यारे!!!! ओह,,, चोदु,,,, मेरे भगनशे को ऐसे ही छेडो और कस कर अपनी जीभ को पेलो,... >>>

उत्तेजक लड़कियां

नीरज ने उसे आश्चर्य से देखा कि वो किताब क्यों मांग रही है. पर जब उसने दुबारा किताब मांगी तो नीरज ने गद्दे के नीचे से निकाल कर दे दी. नम्रता ने रोशनी जलायी और किताब खोल दी. यह नग्न लड़कियों के लुभावनी मुद्राओं के दृश्यों से भरी हुयी थी. “नीरज इनमें से सबसे अच्छा फोटो कौन सा लगता है तुझे?”, जैसे ही नीरज ने यह सुना उसे उत्तेजना का अनुभव हो लगा. यद्यपि वो अभी भी बहुत उलझन में था. जो कुछ भी हो रहा था, उस पर यकीन करना कठिन था-उसकी माँ रात के 4 बजे उसके पास लेटी हुयी एक गन्दी किताब के पृष्ठ पलटते हुये उ... >>>