डाइवोर्स वाली आंटी की चूत लिया

ये स्टोरी हे एक गेस एजंसी पर मिली डाइवोर्सेड आंटी की चुदाई की जो मुझे एजन्सी में मिली हुआ ये के मेरे गेस कार्ड पर कुछ फोर्मलिटी के लिए में गेस एजंसी गया वह काउंटर पर एक आंटी भी थी जिनकी उम्र कोई ३५ साल होगी. मगर उन्हने अपने बदन को इतना अच्छा मेंटेन किया था की उनके बूब्स बहुत बड़े नादे थे जिन्हें देख कर मेंरी नजर बार बार उमके बूब्स देख रही थी. और वो जब कार्ड देख रही थी. तो में उनके बूब्स देख रहा था. और उन्होंने मुझे नोटिस कर लिया था. और स्माइल दे कर बोली आप अपना मोबाइल नम्बर दे दो. में क्लियर कर के आप को कॉल कर दूंगी. में ओके बोल कर चला आया और रात को मेरे फोन पर मेसेज आया.

फिर मेने भी रिप्लाय किया और फिर मेसेज आया सिर्फ नजर से ही रेप करते हो या रियल में भी कर सकते हो…. में सोकेड हो गया और फिर बहोत पूछने पर उन्होंने बताया की वो गेस एजंसी वाली आंटी हे. और में समज गया की वो एक बहोत ही प्यासी आंटी हे जभी तो उन्होंने मुझे इतना सोक्ड आंसर दिया था. तो मेने भी सोचा जब चूत खुद ही लंड चाहती हे तो क्यू देर की जाए उन्होंने बताया की उनके हसबंड भी सेक्स में काफी कमज़ोर थे और उन्होंने आज तक सेक्स को सही तरीके से एन्जॉय नही किया हे और मेरी नजरो से समज में आया था के वो सेक्स को काफी जनता हूँ उनकी चूत आज भी गाजर और मुली ही शांत लगती आई हे लेकिन रियल सेक्स जब तक ना मिले प्यास नही बजती. वो बोली तुम मेरी प्यास बुजाओगे ना. में बोला बिलकुल बुजाऊंगा यही तो मेरा काम हे फिर मेने बताया के में एक गिगोलो हूँ और अब तक कई आंटी की चूत और गांड की हवास मिटा चूका हूँ तो वो बहुत खुस हो गयी.

और बोली बस अब तो मेरी चूत और गांड के बुरे दिन दूर हो जायेंगे. और बताया की जल्द ही वो मुझे अपने घर ईन्वाईट करेगी. में भी काफी खुस था और रोज़ उनके बूब्स को इमेजिंग करके मुठ मरता और सोचा था केसे उनकी गांड होगी बहोत बेसब्री से उस दिन का वेट करने लगा. और फिर हम कई दिन तक सेक्स चाट करते रहे. फोन सेक्स भी एक दिन उन्होंने अपने घर बुलाया और में काफी एक्साईटमेंट में आ गया और नेक्स्ट दे में में एक दम अच्छी तरह तैयार हो के उनके घर पहोंच गया. वह पहोंच कर बेल बजाई. आंटी ने दरवाजा खोला वाव आंटी ने मेक्सी पहेन रख्खी थी और उन्हें देख कर लग रहा था उन्होंने अन्दर कुछ नही पहना था और उनके बूब्स साफ़ जलक रहे थे में बूब्स देख कर गरम होने लगा तो आंटी ने कहा अब अन्दर आओगे या बहार ही सब करोगे और में शर्मा गया फिर अन्दर एक सोफे पर बेठ गये और आंटी मेरे लिए चाय माने किचन में गई.

और चाय लेकर आई और में चाय पिने लगा और आंटी ने मेरे लेग्स टच होक बेठ गयी फिर उन्होंने बताया की वो तिन साल से प्यासी हे और आज तुम मेरे साथ जो चाहो कर सकते हो तो फिर मेने आंटी ने अपने हॉट मेरे हॉट पर रख दिए और में उसको रिस्पोंस देने लगा और फिर आंटी ने पेंट के उपर से ही मेरा लंड सहलाने लगी मेरा लंड फुल खड़ा हो गया था. वो बोली चलो बेडरूम में चलते हे हम बेडरूम में जेसे ही इंटर हुए तो आंटी ने मुझे बेड पर गिरा दिया और झट से मेरी पेंट खोलकर मेरा लंड बहार निकाल कर मुह में ले कर बहोत जोर जोर से चूसने लगी.मेरा लंड दर्द देने लगा था. फिर मेरा पानी निकल गया और फिर उसने खूब रगड़ कर पूरा पानी पि लिया और में भी जोश में आकर उनके उपर आ गया और उन्हें पूरा नुड़े करके मेने उनके बूब्स पर टूट पड़ा वाओ बहोत टेस्टी बूब्स थे आंटी के में उन्हें निचोड़ निचोड़ कर चूसने लगा. और वो भी बहोत तेज आवाज़ से मज़ा लेने लगी.

फिर उन्होंने मुझे निचे धकेला मेने उनकी चूत पर अपनी जीभ चलने लगा वो चिल्लाने लगा आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् मज़ा आ रहा हे येस्स्स्स साहिल कम ऑन साहिल खा जाओ मेरी चूत बहोत सालो बाद असली मज़ा आ रहा हे और फिर मेने अपनी एक ऊँगली उनकी गांड में डाल दी वो चिल्ला उठी मर गयी प्लीज् फक मी साहिल अब मेरा लंड भी उफान मारने लगा था. तो मेने आंटी को करवट में लेटा कर बेड के निचे उतर कर अपना लंड उनकी चूत पर रगड़ने लगा और वो बोली प्लीज् अब डाल दो तो मेने लंड को चूत पे प्रेस कर किया तो वो मुह सिकोड़ कर मज़ा लेने लगी और मेने तेज़ तेज़ धक्के लगने लगा तो वो भी अपनी गांड उछल उछाल कर चुदवाने लगी और फिर वो डौगी स्टाइल में चोदने लगा वो चिल्ला चिल्ला कर मुझे और जोश दे रही थी और फिर आंटी ने मुझे लेटा कर मेरे लंड पर उछल ने लगी फिर उन्होंने मेरा लंड निकाल कर अपनी गांड के छेद पर रख कर धीरे धीरे चोदने लगी. मुझे बहोत ज्यादा मज़ा आ रहा था.

तो फिर मेने कहा में झड़ने वाला हूँ तो आंटी ने लंड को बहार निकाल कर अपने मुह में ले लिया और में उनके मुह में झड गया फिर हम बाथरूम में गये और वह पर शावर के निचे खड़े होकर एक दुसरे को निह्लाने लगे और दोनों एक बार फिर चुदाई के लिए तैयार हो गये.आंटी घुटने पर बेठ गयी. और मेरा लंड चूसने लगी.और मुझे बहोत मज़ा आ रहा था. फिर आंटी ने मुझे बोला प्लीज् फक मी साहिल तो मेने उनकी एक लेग्स को अपने हाथो में लेकर अपना लंड उनकी चूत में डाल दिया. और धक्के मरने लगा और पुरे बाथरूम में फच फच आवाज़े आ रही थी १० मिनट तक चुदाई के बाद आंटी जमीन पर डोग्गी बन गयी और अपनी गांड को बहार निकल कर मुझे गांड में लंड डालने को बोली तो मेने एक झटके में अपना पूरा लंड उनकी गांड में डाल दिया उमकी सिसकिय निकल गयी. और वो गांड को आगे पीछे करने लगी. तो मेने अपने एक हाथ से उनके बूब्स दबाने लगा और दुसरे हाथ से उनकी चूत सहलाने लगा.

वो अब तक दो बार झड़ चुकी थी तो में भी झड़ने वाला था और १० मिनट तक गांड को तेज़ी से चोदने के बाद में उनकी गांड में ही झड़ गया और हम बाथरूम में ही थक कर एक दुसरे से लिपट कर जमीन पर लेट गये.